UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 16 घुमक्कड़ तारक

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 16 घुमक्कड़ तारक

घुमक्कड़ तारक शब्दार्थ

आकाश = आसमान
चकित = अचंभित
अद्भुत = आश्चर्य
आकृति = शक्ल।

घुमक्कड़ तारक पाठ का सार (सारांश)

तारक नाम का एक कछुआ था। उसे दो हंसों ने उठाकर आकाश वान भरी। तारक नीचे समुद्र में पानी की ऊँची-ऊंची लहरें देखकर हँस पड़ा और गहर समुद्र में जा गिरा। तारक के लिए समुंद्र नया संसार था। यहाँ पानी ही पानी था। यहाँ उसने हजारों कीड़े-मकोड़े और जीव-जन्तु देखे। अचानक उसने एक बड़ा कछुआ देखा, जिसका नाम हीरक था। हीरक ने उसे ह्वेल मछली दिखाई, जो हाथी से कई गुनी बड़ी होती है। उसके पेट में एक टन खाना आता है। हीरक ने तारक को डॉलफिन मछली दिखाई, जिसे बातूनी मछली भी कहते हैं। फिर दोनों मूंगे की चट्टान पर जा बैठे। वहाँ तारक ने घोंघे, केकड़े, रंगीन मछलियाँ, सितारा मछली, झींगे, स्पंज, ऑक्टोपस आदि देखे। ऐसी मछलियाँ भी थीं, जिनकी आँखों से तेज रोशनी निकल रही थी। समुद्र में आश्चर्यजनक चीजें देखकर तारक वहीं रहने लगा।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 16 घुमक्कड़ तारक

घुमक्कड़ तारक अभ्यास

प्रश्न 1.
उत्तर लिखो
(क) तारक ने समुद्र में क्या-क्या देखा?
उत्तर:
तारक ने समुद्र में अनेक चीजें देखीं। उसने समुद्र में कीड़े-मकोड़े और जीव-जन्तु देखे। उसने वेल और डॉलफिन मछलियाँ देखीं। तारक ने मूंगे की चट्टान पर बैठकर घोंघे, केकड़े, रंगीन मछलियाँ, झींगे, स्पंज और ऑक्टोपस देखे।

(ख) कौन-सा जीव हाथी से कई गुना बड़ा होता है?
उत्तर:
वेल नामक जीव हाथी से कई गुना बड़ा होता है।

(ग) कौन-सी मछली बातूनी कहलाती है?
उत्तर:
डॉलफिन मछली बातूनी कहलाती है।

(घ) हीरक और तारक में कौन बड़ा था?
उत्तर:
हीरक और तारक में हीरक बड़ा था।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 16 घुमक्कड़ तारक

प्रश्न 2.
सोचो और बताओ
(क) हंस का जोड़ा ‘तारक’ को आकाश में किस तरह ले गया होगा?
उत्तर:
हंस का जोड़ा ‘तारक’ को डंडे के सहारे चोंचों से पकड़कर आकाश में ले गया होगा।

(ख) पन्ना और पंखी को ढूँढ़ते-ढूँढ़ते बहुत दिन बाद तारक मिला। तारक ने उनसे क्या-क्या बातें की होंगी?
उत्तर:
पन्ना और पंखी को तारक समुद्री जीव-जन्तुओं व वनस्पतियों तथा हीरक के. बारे में बताया होगा।

प्रश्न 3.
समुद्र में पाए जाने वाले जीव-जंतुओं के चित्र बनाओ और रंग भरो।
उत्तर:
विद्यार्थी स्वयं चित्र बनाएँ और रंग भरें।

अपने आप – 3

मीठे बोल शब्दार्थ

खस्ता = मुलायम
दाख – किशमिश
ताजा = स्वच्छ
निराले = अनोखे

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 16 घुमक्कड़ तारक

मीठा होता ……………………………… मीठे बोल॥

अर्थ – मुलायम खाजा मीठा होता है, ताजा हलवा मीठा होता है, गोल गट्टे मीठे होते हैं, लेकिन इन सबसे ज्यादा मीठे, मधुर बोल (मधुर वाणी) होते हैं। आशय यह है कि मधुर वाणी का प्रभाव चिरस्थायी होता है।

मीठे होते ………………………….. मीठे बोल॥

अर्थ- आम एक अनोखा और मीठा फल होता है। काले-काले जामुन भी मीठे होते हैं। गन्ने भी मीठे होते हैं, परन्तु इन सबसे मीठे मधुर बोल (मधुर वाणी) होते हैं।

मीठे होते ……………………………….. मीठे बोल॥

अर्थ – किशमिश और छुहारे मीठे मेवे हैं। शक्करपारा मीठा होता है। रस का घोल भी मीठा होता है, लेकिन इन सबसे ज्यादा मीठे मधुर बोल (मधुर वाणी) होते हैं।

मीठी होती ………………………………… मीठे बोल॥

अर्थ – पुआ, पूरी मीठी होती है, कुल्फी मीठी होती है, रसगुल्ले अनोखे और मीठे होते हैं, लेकिन मधुर वाणी सबसे मीठी और चिरस्थायी प्रभाव वाली होती है।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 15 जड़ और फूल

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 15 जड़ और फूल

जड़ और फूल  शब्दार्थ

गुच्छे = एक ही डंठल में कई फलों-फूलों का समूह
गुलदस्ता – सजावट के लिए फूलों का बनाया गया गुच्छा
बदसूरत = भद्दी सूरत
हँसी उड़ाना = मजाक उड़ाना, चिढ़ाना, व्यंग्य करना
झुलसना = जलना
ठूठ-सा – सूखा
कोपलें = नई और कोमल पत्तियाँ
चमत्कार = आश्चर्य, अचम्भे में डाल देने वाली घटना

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 15 जड़ और फूल

जड़ और फूल पाठ का सार (सारांश)

गुलमोहर के पेड़ पर जब लाल फूलों के गुच्छे लगते हैं, तब वह गुलदस्ते जैसा लगता है। एक बार फूलों ने जड़ को बदसूरत कहकर उसकी हँसी उड़ाई। बरसात में बिजली गिरने से गुलमोहर सूख गया। बसन्त आने पर गुलमोहर के दूंठ पर नई कोपलें निकल आईं। शाखाओं पर नए पत्ते निकले और पेड़ ने फूलों का हाल-चाल पूछा।

फूल यह जान गए कि जड़ के कारण ही पेड़ फिर से पनपा है; अतः उन्होंने आदर से सिर झुकाएं और जड़ से क्षमा माँगी।

जड़ और फूल अभ्यास

प्रश्न 1.
उत्तर लिखो
(क) फूलों ने जड़ की हँसी क्यों उड़ाई?
उत्तर:
फूलों ने जड़ की हँसी इसलिए उड़ाई, क्योंकि वे सुन्दर थे और जड़ बदसूरत दिखती थी।

(ख) गुलमोहर पर बिजली कब गिरी?
उत्तर:
गुलमोहर पर बिजली बरसात में गिरी।

(ग) नए फूलों ने जड़ को खूबसूरत क्यों कहा?
उत्तर:
नए फूलों को लगा कि उन्हें जड़ के कारण ही दोबारा जीवन मिला है इसलिए नए फूलों ने जड़ को खूबसूरत कहा।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 15 जड़ और फूल

प्रश्न 2.
नीचे दी गई सूची में कुछ चीजें आकाश की हैं और कुछ धरती की। इनकी अलग-अलग सूची बनाओ (सूची बनाकर)
इन्द्रधनुष, हाथी, फूल, तारे, बादल, नदी, चाँद
उत्तर:
आकाश की चीजें – इन्द्रधनुष, तारे, बादल, चाँद
धरती की चीजें – हाथी, फूल, नदी

प्रश्न 3.
विलोम बताओ (विलोम बताकर)
उत्तर:
बदसूरत – खूबसूरत
आया – गया
नया – पुराना
सीधा – उल्टा
डर – साहस ।

प्रश्न 4.
तुमने बरसात में किसी तालाब को देखा होगा। गर्मी में इसी: क्या-क्या अन्तर आ जाता है? सोचो और लिखो।
उत्तर:
बरसात में तालाब में लबालब पानी भरा होता है। गर्मी में इसी ताला सूख जाता है। इसकी मछलियाँ मर जाती हैं और तालाब की तली पर धूल उड़

प्रश्न 5.
विद्यार्थी स्वयं करें।

प्रश्न 6.
तुम्हारे अनुसार कोई चीज खूबसूरत कब होती है? बताओ।
उत्तर:
हमारे अनुसार कोई चीज खूबसूरत अपने गुणों से होती है।

प्रश्न 7.
हमें किनका सम्मान करना चाहिए और क्यों?
उत्तर:
हमें अपने माता-पिता तथा अपने से बड़ों गुरुजनों का सम्मान क क्योंकि उन्हीं के स्नेह, देखभाल और आशीर्वाद के फलस्वरूप हम जीवन पाते हैं।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 15 जड़ और फूल

प्रश्न 8.
सही पर (✓) का निशान लगाओ
उत्तर:
पेड़, वातावरण को शुद्ध रखते हैं? हाँ /✓/नहीं
क्या पेड़ों को काटना चाहिए?  हाँ/नहीं ✓

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 14 माथापच्ची

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 14 माथापच्ची

माथापच्ची अभ्यास

प्रश्न 1.
अपनी कॉपी पर लिखो (वर्ग-पहेली पाठ्यपुस्तक से देखकर)
(क) वर्ग-पहेली में तुम्हें खाने-पीने वाली कौन-कौन सी चीजें मिलीं?
उत्तर:
वर्ग पहेली में हमें खाने-पीने की निम्न चीजें मिलीं- चीनी, खीर, तरबूज, पानी, दूध, दही, पूड़ी, मिर्च, साग, दाल, चाय, शलजम और खटाई।

(ख) खाने-पीने वाली और कौन-कौन सी चीजें होती हैं?
उत्तर:
खाने-पीने वाली और बहुत-सी चीजें होती हैं; जैसे- टमाटर, मेथी, पालक, कटहल, खीरा, प्याज, लौकी, कद्दू, करेला. आलू, मटर, अनाज, चावल, दाल आदि।

(ग) वर्ग पहेली में तुम्हें कौन-कौन से बर्तन मिले?
उत्तर:
लोटा, जग, चिमटा, गिलास, थाली व तवा।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 14 माथापच्ची

(घ) तुम और किन-किन बर्तनों का प्रयोग करते हो?
उत्तर:
हम परात, कड़ाही, चम्मच, बाल्टी, प्लेट आदि बर्तनों का भी प्रयोग करते हैं।

(ङ) वर्ग पहेली में तुम्हें लिखने-पढ़ने वाली कौन-कौन सी चीजें मिलीं?
उत्तर:
वर्ग पहेली में हमें लिखने-पढ़ने वाली निम्न चीजें मिली- कॉपी, किताब और पेन।

(च) क्या लिखने-पढ़ने वाली और भी चीजें होती हैं?
उत्तर:
हाँ, लिखने-पढ़ने की और भी चीजें होती हैं, जैसे-पत्रिका, अखबार आदि।

(छ) वर्ग पहेली में तुम्हें पहनने वाली कौन-कौन सी चीजें मिलीं?
उत्तर:
वर्ग पहेली में हमें पहनने वाली निम्न चीजें मिलीं– टाई और धोती।

प्रश्न 2.
नोट – विद्यार्थी स्वयं लिखें।

प्रश्न 3.
नीचे दिए गए अक्षरों से बनने वाले चार-चार शब्द लिखो (नए शब्द बनाकर)
उत्तर:
UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 14 माथापच्ची 1

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 14 माथापच्ची

प्रश्न 4.
शब्द अंत्याक्षरी को आगे बढ़ाओ।
उत्तर:
नमक, कलम, मकान, नगर, रथ, थरमस, सड़क

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

सीख शब्दार्थ

उपदेश = शिक्षा
कुशल = योग्य
अवश्य = जरूर
प्रभाव = असर

सीख पाठ का सार (सारांश)

वैभव के स्कूल में 2 अक्टूबर को गांधी जी का जन्मदिन मनाया गया। अध्यापिका जी ने गांधी जी के विषय में रोचक घटना सुनाई। वैभव ने यह घटना अपनी माता जी को सुनाई। घटना निम्न प्रकार है–

एक बार कस्तूरबा बीमार पड़ गईं। गांधी जी ने उन्हें सलाह दी कि वे भोजन में नमक न खाएँ। दवा से कोई लाभ नहीं हो रहा था। कस्तूरबा ने गांधी जी की बात नहीं मानी। कस्तूरबा ने कहा कि नमक तो गांधी जी स्वयं भी नहीं छोड़ सकते। गांधी जी ने सोचा ‘पर-उपदेश कुशल बहुतेरे’, ‘हम जो दूसरों से कराना चाहते हैं, वह हमें पहले स्वयं करना चाहिए। इसी में भलाई है।’ उन्होंने कस्तूरबा से कहा, “पहले मैं ही एक वर्ष के लिए नमक छोड़ देता हूँ।” उन्होंने नमक छोड़ दिया। इसका कस्तूरबा पर बहुत प्रभाव पड़ा। उन्होंने भी नमक खाना छोड़ दिया और वे स्वस्थ हो गईं। वैभव की बात सुनकर माँ ने कहा, “ऐसे थे बापू। वे जो कहते थे, पहले स्वयं करते थे।”

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

सीख अभ्यास

प्रश्न 1.
उत्तर दो
(क) दो अक्टूबर को किन-किन महापुरुषों का जन्मदिन मनाया जाता है?
उत्तर:
दो अक्टूबर को महात्मा गांधी तथा लाल बहादुर शास्त्री का जन्मदिन मनाया जाता है।

(ख) गांधी जी ने कस्तूरबा को नमक छोड़ने के लिए क्यों कहा?
उत्तर:
कस्तूरबा की बीमारी दवा से ठीक नहीं हो रही थी। उन्हें स्वस्थ करने के लिए गांधी जी ने उनसे नमक छोड़ने को कहा।

(ग) हमारी बात का दूसरों पर कब प्रभाव पड़ता है?
उत्तर:
हमारी बात का दूसरों पर तभी प्रभाव पड़ता है जब हम स्वयं भी उस बात पर अमल करते हैं।

प्रश्न 2.
तुम अपने घर की बोली में इन्हें क्या कहते हो
(क) माँ के भाई को
उत्तर:
मामा जी

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

(ख) पिता जी के पिता जी को
उत्तर:
दादा जी

(ग) पिता जी की बहन को पिता जी की बहन को
उत्तर:
बुआ जी

(घ) माता जी की बहन को
उत्तर:
मौसी जी

प्रश्न 3.
‘भला’ शब्द से बना है- भलाई। इसी प्रकार इन शब्दों से नए शब्द बनाओ
उत्तर:
अच्छा – अच्छाई
बुरा – बुराई
मीठा – मिठाई
सच्चा – सच्चाई

प्रश्न 4.
नोट – विद्यार्थी स्वयं लिखें।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

प्रश्न 5.
नीचे बने खानों में इन नामों को छाँटकर लिखो-
गांधी जी, कम्प्यूटर, फूल, घर, कस्तूरबा, नमक, पुस्तक, कोयल, दिल्ली, गोपाल, हरिद्वार, घड़ी, चरखा, अहमदाबाद, लखनऊ, केला, पानी, गेंद, कलम, बल्ला, गाय, रबर, हर्ष, वैभव, लड्डू, कबूतर
उत्तर:

प्राणियों के नाम स्थानों के नाम

वस्ताका नाम

गांधी जी, कस्तूरबा, कोयल, गोपाल, गाय, हर्ष, वैभव, कबूतर घर, दिल्ली, हरिद्वार, अहमदाबाद, लखनऊ कंप्यूटर, फूल, नमक, पुस्तक, घड़ी, चरखा, केला, गेंद, कलम, . बल्ला, रबर, लड्डू

कितना सीखा?

प्रश्न 1.
नीचे दिए गए शब्दों के समान अर्थ वाले (समानार्थी) दो-दो शब्द लिखो।
उत्तर:
पेड़ – वृक्ष, विटप
चंद्रमा – चाँद, शशि
फूल – पुष्प, कुसुम

प्रश्न 2.
नीचे लिखे शब्दों में से संज्ञा, सर्वनाम छाँटकर अलग-अलग लिखो
हाथी, तुम, स्कूल, मैं, वह, अध्यापक, हम, रामपुर, पतंग
उत्तर:
संज्ञा – हाथी, स्कूल, अध्यापक, रामपुर, पतंग।
सर्वनाम – तुम, मैं, वह, हम।

प्रश्न 3.
बहुवचन में लिखो (बहुवचन में लिखकर)
उत्तर:
तोता – तोते
सड़क – सड़कें
आँख – आँखें
सीढ़ी – सीढ़ियाँ।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

प्रश्न 4.
नीचे लिखे शब्दों से वाक्य बनाओ (वाक्य बनाकर)
उत्तर:
रोशनी – बिजली की रोशनी तेज होती है।
उदास – बाढ़ देखकर सीमा उदास हो गई।
अचानक – अचानक पेड़ की डाली टूट गई।

प्रश्न 5.
सोचो और लिखो – क्या होता यदि पहाड़ उड़ सकते?
उत्तर:
यदि पहाड़ उड़ते तो हम आकाश की सैर करते।

प्रश्न 6.
चाँद ने माता से क्या हठ की?
उत्तर:
चाँद ने माता से स्वयं के लिए एक झिंगोला सिलवाने की हठ की।

प्रश्न 7.
माँ ने कुर्ता सिलवाने में क्या कठिनाई बताई?
उत्तर:
माँ ने कुर्ता सिलवाने में चाँद के एक आकार में नहीं रहने की कठिनाई बताई।

प्रश्न 8.
बापू की बात का कस्तूरबा पर क्या प्रभाव पड़ा?
उत्तर:
बापू की बात का कस्तूरबा पर बहुत अधिक प्रभाव पड़ा। उन्होंने नमक खाना बन्द कर दिया और वे स्वस्थ हो गईं।

प्रश्न 9.
याद की गई कोई कविता कॉपी पर लिखो और सुनाओ।
नोट – विद्यार्थी कविता स्वयं लिखें और सुनाएँ।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 13 सीख

प्रश्न 10.
वैभव की सुनाई हुई कहानी को तुम अपने शब्दों में सुनाओ।
नोट -विद्यार्थी इस पाठ का सार (सारांश) पढ़कर सुनाएँ।

प्रश्न 11. व 12.
नोट – विद्यार्थी स्वयं लिखें। …

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 12 चाँद का कुर्ता

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 12 चाँद का कुर्ता

चाँद का कुर्ता शब्दार्थ

हठ – जिद
झिंगोला = ऊन का ढीला कुर्ता
चाँद = चन्द्रमा
सन-सन = जोर-जोर से
सफर = यात्रा
भाड़ा = किराया
बदन = शरीर

हठ कर बैठा चाँद ………………………..………. कोई भाड़े का।

अर्थ – एक दिन चाँद जिद करके माता से कहने लगा कि है माता! मेरे लिए ऊन का एक ढीला कुर्ता सिलवा दो। रातभर जोर-जोर से ठंडी हवा चलती है और मुझे सर्दी लगती है। मैं ठिठुरते हुए अपनी यात्रा पूरी करता हूँ जाड़े के मौसम में आसमान का सफर कष्टदायी होता है। अगर कुछ न कर सको, तो मुझे किराए का कुर्ता ही लाकर दे दो।

बच्चे की सुन बात ………….…………………. देखा करती हूँ।

अर्थ – माता ने बालक चन्द्रमा की बात सुनकर कहा कि हे मेरे प्यारे पुत्र! भगवान करे, तुम कुशलपूर्वक रहो और तुम पर जादू-टोने का प्रभाव न पडे। तुम्हें सर्दी के कारण जाड़ा लगने की बात तो सही है; परन्तु मुझे यह डर है कि मैं किस नाप का कुर्ता बनवाकर दूँ। तुम्हारा आकार तो प्रतिदिन घटता-बढ़ता रहता है।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 12 चाँद का कुर्ता

कभी एक अंगुल ……………………………… बदन में आए।

अर्थ – चन्द्रमा की माता ने कुर्ते के विषय में अपनी परेशानी बताते हुए कहा कि पुत्र चन्द्रमा, तुम कभी तो एक अंगुल चौड़े हो जाते हो और कभी एक फुट मोटे, तुम किसी दिन बड़े हो जाते हो और किसी दिन ठीक विपरीत अर्थात् छोटे। तुम रोजाना घटते-बढ़ते रहते हो और किसी दिन तो दिखाई भी नहीं देते! अब तुम स्वयं बताओ कि तुम्हारी किस दिन नाप लूँ! सोचती हूँ कि एक ऐसा कुर्ता सिलवा दिया जाए, जो तुम रोज पहन सको।

चाँद का कुर्ता अभ्यास

प्रश्न 1.
उत्तर दो
(क) चाँद ने माँ से क्या कहा?
उत्तर:
चाँद ने माँ से कुर्ता सिलवाने के लिए कहा।

(ख) माँ ने झिंगोला सिलने की बात क्यों कही?
उत्तर:
माँ ने झिंगोला सिलने की बात इसलिए कही क्योंकि चाँद का आकार रोज घटते-बढ़ते रहता है। ऐसे में झिंगोला हर रोज बदन में आ सकता है।

(ग) चाँद बड़ा कब दिखाई देता है?
उत्तर:
पूर्णमासी को चाँद बड़ा दिखाई देता है।

(घ) आसमान में चाँद कब नहीं दिखाई देता है?
उत्तर:
आसमान में चाँद अमावस्या को नहीं दिखाई देता है।

प्रश्न 2.
नीचे लिखी पंक्तियों को पूरा करो (पूरा करके)
उत्तर:
(क) सन-सन चलती हवा रात भर, जाड़े से मरता हूँ।
(ख) बच्चे की सुन बात कहा माता ने, अरे सलोने।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav Chapter 12 चाँद का कुर्ता

प्रश्न 3.
नीचे दिए गए शब्दों में समान अर्थ वाले शब्दों को मिलाओ (मिलाकर)
उत्तर:
आसमान – आकाश
हठ – जिद
भाड़ा – किराया
बदन – शरीर
सफर – यात्रा

प्रश्न 4.
नोट – विद्यार्थी स्वयं करें।

प्रश्न 5.
नोट – विद्यार्थी स्वयं करें।

UP Board Solutions for Class 3 Hindi Kalrav