UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 14 हौसला

UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 14 हौसला

हौसला शब्दार्थ

बुलंदी = ऊँचाई, उत्कर्ष
प्रतिद्वंद्वी = मुकाबला करने वाला, प्रतियोगी
दाखिला = प्रवेश
प्रतिस्पर्धा = होड़, प्रतियोगिता
प्रतिभा = बुद्धि, प्रखरता
हौसला = साहस, हिम्मत
लक्ष्य = उद्देश्य
हताशा = निराशा, ग्रहण लगा
देना – दुख देना
गर्त = गहराई, खाई
अंतराल – दूरी।

हौसला पाठ का सारांश

लेखक और माइकल एक ही कक्षा में पढ़ते थे। दोनों असीम प्रतिभा के धनी और मेधावी थे। माइकल संगीत एवं गणित में प्रखर था, तो लेखक भाषण कला और हिंदी में। एक बार दोनों मित्रों को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता परीक्षा में भाग लेने के लिए चेन्नई भेजा गया। दोनों मित्रों ने अपने विषयों में स्वर्णपदकों के संग अन्य कई पुरस्कार भी प्राप्त किए। लौटते समय दु:संयोग से माइकल बस की चपेट में आकर दोनो टाँगें गँवा बैठा। इसी बीच, उसके पिता के चंडीगढ़ स्थानांतरित हो जाने के कारण लेखक से उसका साथ भी छूट गया। एक लंबे समयांतराल के बाद एक प्रतियोगिता में ही लेखक की भेंट अपने परम मित्र माइकल से होती है, जो महान संगीतकार बन चुका होता है। लेखक, जो स्वयं भी अच्छा शिक्षक होता है, अपने छात्रों को माइकल से मिलवाता है। माइकल हौसले, लगन, परिश्रम आदि को लक्ष्य प्राप्ति का मूलमंत्र बताता है।

UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 14 हौसला

हौसला अभ्यास प्रश्न

शब्दों का खेल

प्रश्न १.
नीचे दिए गए मुहावरों का अर्थ शिक्षक से पूछकर अपने वाक्यों में प्रयोग करो
उत्तर:
(क) आँखों का तारा होना (बहुत प्यारा, दुलारा होना)- बेटा माँ की आँखों का तारा होता है।
(ख) जी-जान से जुटना (सुध-बुध भूलकर किसी कार्य में मन से लग जाना)- किसी कार्य में जी-जान से जुटना सफलता का प्रतीक है।
(ग) खुशियों को ग्रहण लगना (सुख में ही दुख आ जाना)- खुशियों को ग्रहण लगना किसी को भी झकझोर देता है।
(घ) रंग में भंग पड़ना (किसी कार्य में बाधा पड़ना)- दुर्घटनाओं से रंग में भंग पड़ जाता है।

प्रश्न २.
नीचे लिखे शब्दों का शुद्ध उच्चारण करो और अपनी कॉपी में लिखोव्यवहार, प्रतिद्वन्द्वी, प्रतिस्पर्धा, प्रेरणा, विभिन्न, असन्तुलित, सर्वाधिक, दृष्टि
नोट – विद्यार्थी स्वयं उच्चारण कर कॉपी में लिखें।

प्रश्न ३.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कोष्ठक में दिए शब्द के सही रूप से करो (पूर्ति करके)

  • दुर्घटना ने माइकल को असन्तुलित कर दिया। (असंतुलन)
  • बच्चे उत्सुकता से माइकल की बातें सुन रहे थे। (उत्सुकता)
  • रोजी दीदी ने मुझे हताशा से उबारा। (हताश)

प्रश्न ४.
इन वाक्यों को पढ़ो और समझो

भूतकाल वर्तमानकाल भविष्यत्काल
 माइकल ने गाना गाया। माइकल गाना गा रहा है। माइकल गाना गाएगा।
रोजी पुस्तक लाई। रोजी पुस्तक ला रही है। रोजी पुस्तक लाएगी।

अब इन वाक्यों के सामने उनके काल लिखो (काल लिखकर)

वाक्य काल
पिता जी ने बहुत-सी बातें बताईं। भूतकाल
कल विद्यालय की छुट्टी रहेगी। भविष्यत्काल
रजिया खाना खा रही है। वर्तमानकाल
अगले माह दीपावली है। भविष्यत्काल
राघव और श्रेय व्यायाम कर चुके हैं। भूतकाल

UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 14 हौसला

बोध प्रश्न

प्रश्न १.
उत्तर दो
(क) माइकल किस गुण के कारण सबकी आँखों का तारा हो गया था?
उत्तर:
माइकल अद्भुत प्रतिभा और व्यवहार के बल पर सबकी आँखों का तारा हो गया था।

(ख) माइकल के साथ दुर्घटना क्यों हुई?
उत्तर:
जल्दबाजी और असावधानी के कारण माइकल के साथ दुर्घटना हुई।

(ग) दुर्घटना से माइकल पर क्या प्रभाव पड़ा?
उत्तर:
दुर्घटना से माइकल मानसिक रूप से असंतुलित हो गया।

(घ) रोजी ने माइकल को हताशा से कैसे उबारा?
उत्तर:
रोजी ने हौसले, परिश्रम, लगन, सेवाभाव, मानसिक उत्कर्ष आदि गुणों से माइकल को हताशा से उबारा।

(ङ) माइकल अपना सपना कैसे पूरा कर पाया?
उत्तर:
माइकल रोजी दीदी की सहायता और स्वयं के हौसले, लगन, परिश्रम आदि गुणों के बल पर अपना सपना पूरा कर पाया।

प्रश्न २.
किसने किससे कहा?
(क) “देखना मैं एक दिन अच्छा संगीतकार बनूँगा।”
उत्तर:
माइकल ने लेखक से।

(ख) “तुम दोनों ने हमारे विद्यालय का सदैव गौरव बढ़ाया है।”
उत्तर:
प्रधानाध्यापक ने माइकल और लेखक से।

(ग) “माइकल का बहुत ध्यान रखना?
उत्तर:
लेखक ने माइकल के माता-पिता और बहन से।

(घ) “सभी बच्चे सड़क के नियमों का पालन करेंगे।”
उत्तर:
लेखक ने अपने विद्यार्थियों से।

UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav Chapter 14 हौसला

(ङ) “हम दोनों बचपन के मित्र हैं।”
उत्तर:
माइकल ने लेखक के विद्यार्थियों से।

(च) “तुम एक दिन जरूर बड़े संगीतकार बनोगे।”
उत्तर:
रोजी दीदी ने माइकल से।

(छ) “अगर आपमें हिम्मत है, हौसला है, तो आपको अपना लक्ष्य प्राप्त होकर रहेगा।”
उत्तर:
माइकल ने लेखक के विद्यार्थियों से।

प्रश्न ३.
सोचो और बताओ
(क) इस पाठ का शीर्षक ‘हौसला’ क्यों रखा गया है?
उत्तर:
अपाहिज हो चुके माइकल ने हौसले के दम पर ही लक्ष्य प्राप्ति में सफलता पाई। यही कारण है कि इस पाठ का शीर्षक ‘हौसला’ रखा गया है।

(ख) इस पाठ का तुम क्या शीर्षक देना चाहोगे?
उत्तर:
हम इस पाठ का शीर्षक देंगे- ‘साहसी व्यक्ति’।

तुम्हारी कलम से

प्रश्न १.
अपने क्षेत्र के किसी ऐसे बच्चे से मिलो, जो शारीरिक रूप से समर्थ नहीं है। सोचो और लिखो, तुम उसकी मदद कैसे कर सकते हो
नोट – विद्यार्थी स्वयं करें।

अब करने की बारी

(क) अपने बड़ों से ऐसे व्यक्तियों के बारे में पता करो, जिन्होंने शारीरिक अक्षमता पर विजय प्राप्त कर दुनिया में नाम रोशन किया। उनके बारे में अपनी कक्षा में बताओ।
(ख) पता करो, तुम्हारी कक्षा में कोई ऐसा बच्चा तो नहीं जो किसी प्रकार की शारीरिक अक्षमता से ग्रस्त है। योजना बनाओ, तुम उसके लिए क्या-क्या सहयोग दे सकते हो।
नोट – विद्यार्थी ‘क’ और ‘ख’ दोनों स्वयं करें।

UP Board Solutions for Class 4 Hindi Kalrav

Leave a Comment